Social Share:
शुद्ध और उत्तम किस्म के गुणवत्ता वाले बीज ही उन्नत खेती का आधार है, जानिए अच्छे बीज की विशेषता और गुणवत्ता बनाये रखें के उपाय
शुद्ध और उत्तम किस्म के गुणवत्ता वाले बीज ही उन्नत खेती का आधार है, जानिए अच्छे बीज की विशेषता और गुणवत्ता बनाये रखें के उपाय

बीज एक उन्नत कृषि के लिए जितने भी कृषि आदानों की आवश्यकता होती है उनमें सबसे महत्पूर्ण आदान बीज ही है। बीज एक सूक्ष्म पौधा है जिसमें जीवन होता है। दूसरे में शब्दों में कहे तो बीज एक छोटी जीवित रचना है। जिसमें नहीं भ्रूणीय पौधा ऊतकों की विभिन्न परतों से ढंका हुआ सुसुप्त अवस्था में रहता है। जैसे ही उसको अनुकूल परिस्थितियां जैसे नमी, वायु, तापमान एवं प्रकाश मिलता है और वह मृदा के संपर्क में आता है तो वह नए पौधे को जन्म देता से है, बीज की गुणवत्ता उसकी अनुवांशिक एवं भौतिक उत् शुद्धता, ओज एवं अंकुरण क्षमता पर निर्भर करता है। से

अच्छे बीज की विशेषताएं
  • बीज के अंदर नमी पर्याप्त मात्रा में होनी चाहिए जिससे अंकुरण अच्छी तरह से हो सके।
  • बीज कीटों और रोगों से मुक्त होना चाहिए। 
  • बीज खरपतवार से मुक्त होना चाहिए।
  • बीज में किसी भी प्रकार का कोई मिश्रण नहीं होना चाहिए। 
  • बीज पर्याप्त रूप से सूखा होना चाहिए जिससे उसमे किसी भी प्रकार का संक्रमण ना हो सके।

नुक्लियस अथवा केन्द्रक बीज
प्लांट ब्रीडर के द्वारा प्रजनक बीज का उत्पादन किया जाता हैं। इसकी गुणवत्ता की जांच के लिए प्रजनक बीज नियंत्रण दल एक प्रमाण पत्र प्रदान करता है। इस बीज का उपयोग आधार बीज के उत्पादन के लिए किया जाता है।

आधार बीज
इस बीज का उत्पादन केन्द्रीय एवं राज्य बीज निगम सरकारी वा अर्ध-शासकीय संस्थाओ प्रगतिशील किसानों द्वारा बीज प्रमाणीकरण संथा की देख रेख में किया जाता है। प्रजनक बीज की मात्रा बढ़ाने के लिए इसको तैयार किया जाता है। यह बीज प्रजनक बीज से प्राप्त किया जाता हैं। इसकी आनुवंशिकीय शुद्धता 98-100% होती है।

पंजीयकृत बीज
इसका उत्पादन बीज प्रमाणीकरण संस्था की निगरानी में किया जाता है। हमारे देश में बीज का यह वर्ग चलन में नहीं है।

प्रमाणित बीज
यह प्राय आधार बीज या पंजीकृत बीज अथवा स्वयं से प्राप्त किया जाता है। हमारे देश में इस प्रकार के बीज का उत्पादन मुख्य रूप से किसानो को वितरित करने के उद्देश्य से किया जाता है। इस प्रकार के बीज के ऊपर नीले रंग का टैग लगा होता है।

बीज की शुद्धता एवं गुणवत्ता में गिरावट के कारण
  • हमारे देश में प्राय किसान बीज स्थानीय बाजार से खरीदते हैं जो प्रमाणित नहीं होते हैं।
  • किसानों के पास बीज भण्डारण की उचित व्यवस्था का अभाव होना।
  • शुद्ध बीज के साथ खरपतवार के बीजों का मिला होना। स्थानांतरण के समय बीजों का अन्य फसलों के बीजों के साथ मिल जाना।
  • प्राकृतिक संक्रमण तथा परागण के कारण बीजो का मिश्रण होना।

उत्तम बीज की गुणवत्ता बनाए रखने के उपाय
  • शासन द्वारा दिए गए प्रमाणित बीजों का उपयोग करें। 
  • उन्नत बीजों का उत्पादन वैज्ञानिकों की देखरेख में करें। 
  • बीज उत्पादन के समय खेत में उचित दूरी को बनाए रखना जिससे कि उनमें किसी तरह का प्राकृतिक परागण के समय कोई मिश्रण ना हो सके।
  • बीजों को हमेशा किसी फफूंदनाशक दवा से उपचारित करके ही बोया जाए।