Discription:

हर खेत को पानी "प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना"

भारत सरकार जल संरक्षण और उसके प्रबंधन को उच्च प्राथमिकता देने के लिए प्रतिबद्ध है। इस आशय के लिए प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना (पीएमकेएसवाई) को सिंचाई 'हर खेत को पानी' के कवरेज का विस्तार करने और जल उपयोग दक्षता में सुधार लाने की दृष्टि से तैयार किया गया है। स्रोत निर्माण, वितरण, प्रबंधन, क्षेत्र अनुप्रयोग और विस्तार गतिविधियाँ। माननीय प्रधान मंत्री की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति ने 1 जुलाई, 2015 को हुई अपनी बैठक में प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना (पीएमकेएसवाई) को मंजूरी दे दी है।

योजना का उद्देश्य:
  • फिल्ड स्तर पर सिंचाई में निवेश का अभिसरण प्रदान करना।
  • खेत में जल की पहुंच को बढ़ाना और सुनिश्चित सिंचाई (हर खेत को पानी) के तहत कृष्य भूमि को बढ़ाना।
  • उचित प्रौद्योगिकीयों और पद्धतियों के माध्यम से जल के बेहतर उपयोग के लिए जल संसाधन का समेकन, वितरण और इसका दक्ष्य उपयोग
  • अवधि और सीमा में अपशिष्ट घटाने और उपलब्धता वृद्धि के लिए ऑन फॉर्म जल उपयोग क्षमता का सुधार।
  • परिशुद्ध सिंचाई और अन्य जल बचत प्रौद्योगिकी (अधिक फसल प्रति बून्द ) के अपनाने में वृद्धि करना।
  • जलभृत भराव में वृद्धि और सतत जल संरक्षण पद्धतियों की शुरुआत करना।
  • मृदा और जल संरक्षण, भू जल के पुनर्भराव, प्रवाह बढ़ाना, आजीविका विकल्प प्रदान करना और अन्य एन आर एम गतिविधियों की ओर पनधारा दृष्टिकोण का उपयोग करते हुए वर्षा सिंचित क्षेत्रों में समेकित विकास को सुनिश्चित करना। 
  • जल संचयन, जल प्रबंधन और किसानों के लिए फसल संयोजन तथा जमीनी स्तर के क्षेत्र कर्मियों के संबंधित विस्तार गतिविधियों को प्रोत्साहित करना।
  • पेरी शहरी कृषि के लिए उपचारित नगरपालिका का अपशिष्ट जल के पुर्नउपयोग की व्यवहारिता खोजना।
  • यह अवधि कृषि उत्पादन और उत्पादकता बढ़ायेगा और फार्म आय में वृद्धि करेगा। 


Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें !

Send a Inquiry

Your Name : *

Phone/ Mobile No : *

Email : (Optinal)

City : *

Description: