Social Share:
kisan news
खेती करे कुछ वैज्ञानिक तरीको से

 

हमारे देश में हर दिन कृषि के क्षेत्र में नए आविष्कार होते हैं। बीज, कीटनाशक, या फसल हो कोई भी तकनीक विज्ञान से अछूती नहीं है। जब भी कोई किसान बोने या उगाने के उद्देश्य से खेती करना शुरू करता है, तब वह उन्ही पुराने तरीकों का इस्तेमाल करता है। लेकिन किसान को यह जानने की जरूरत है कि उसके लिए कितना कुछ खोजा जा चुका है। अगर वह अपनी मेहनत के साथ विज्ञान से जुड़ता है, तो उसे निश्चित रूप से पहले की तुलना में 10 गुना मुनाफा होगा।

 

अधिक लाभ कैसे जानें

विज्ञान केंद्रों के साथ संपर्क -पहले ज़माने की बात और थी किसी व्यक्ति को किसी अन्य व्यक्ति के संपर्क में आने में कई दिन और महीने लग जाते थे, लेकिन आज ऐसा नहीं है। आज हर कृषि विज्ञान केंद्र में कुछ समूह हैं। किसानों को इन समूहों में शामिल होना चाहिए ताकि समय-समय पर वे कृषि जगत में नए आविष्कारों को जान सकें।

 

कंपनियों के साथ गठजोड़ - आज भारत में कई कंपनियां हैं जो किसानों को अपने साथ जोड़ना चाहती हैं और उनके सहयोग की मांग करती हैं। इन कंपनियों में कई कंपनियां विदेशी हैं जो किसानों को दोहरा मुनाफा कमाने में मदद कर रही हैं।

 

इंटरनेट और सोशल मीडिया - आज की दुनिया में सूचनाओं और जानकारियों को पाने का सबसे बड़ा स्रोत इंटरनेट और सोशल मीडिया है। अगर किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की जानकारी की आवश्यकता है तो इंटरनेट एक बेहतर विकल्प है और कृषि विषय आजकल सबसे ज्यादा अराजक है। बीज कैसे बोएं, कब और कैसे पानी डालें, फसल की देखभाल कैसे करें, फसलों को कीड़ों से कैसे बचाएं, आज हर विषय की जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध है।

 

फसलों से जुडी, मंडी भाव, नयी तकनीक, खेतो से जुडी जानकारी, मौसम की जानकारी, एग्रीकल्चर से जुडी ऐसी ही सभी जानकरी हम किसान हेल्पलाइन के जरिये आप तक पहुंचाते है। 

किसान हेल्पलाइन मोबाइल ऍप डाउनलोड करे अपने मोबाइल में और पाएं रोज नयी जानकारी