Social Share:
किसान में खुशहाली, मुफ्त बिजली से काटेंगे फसल

 

धनबाद: झारखंड के किसानों के लिए खुशी की खबर है। किसानों को कृषि के लिए बिजली कनेक्शन मुफ्त मिलेगा। राज्य विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (JBVNL) किसानों को कृषि कार्य के लिए मुफ्त कनेक्शन प्रदान करेगा। जेबीवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार ने गुरुवार को न्यू टाउन हॉल में जिला चैंबर ऑफ कॉमर्स के तत्वावधान में आयोजित एक व्यावसायिक सम्मेलन में यह घोषणा की।

 

18 कृषि फीडर बनाए जा रहे हैं: अपने संबोधन में मुख्य अतिथि राहुल पुरवार के अनुसार कृषि को बढ़ावा देने के लिए बड़े कदम उठाए जा रहे हैं। 18 कृषि फीडर बनाए जा रहे हैं, जो किसानों को मुफ्त में बिजली देंगे। यह काम अप्रैल में पूरा हो जाएगा। मई से कनेक्शन देना शुरू कर दिए जाएंगे, जिससे धनबाद के किसानों को काफी फायदा होगा। उन्होंने कहा कि सूबे के सभी गांवों और घरों में बिजली पहुंचाई गई है। अब लक्ष्य बिजली आपूर्ति की गुणवत्ता पर है। यह बुनियादी ढांचे को मजबूत करने में लगा है। अब परिणाम मिलने का समय है। तत्काल लेनदेन अवधि में हैं। परिणाम की प्रतीक्षा करें। ढाई साल के भीतर बुनियादी ढांचे को मजबूत किया जाएगा।

 

अब डीवीसी पर नहीं रहना होगा निर्भर: राहुल पुरवार ने कहा कि अब बिजली के लिए डीवीसी पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। धनबाद, बोकारो, हजारीबाग, रामगढ़ आदि जिलों के लिए नीतिगत निर्णय लिया गया है। यह कमर्शियल कंज्यूमर के रूप में डीवीसी के साथ मिलकर काम करेगा। इसी का नतीजा है कि प्री-लोड शेडिंग में कमी आई है। तीन से चार महीनों में सुधार देखने को मिलेगा। डीवीसी को आत्मनिर्भरता से खत्म करने के लिए तीन नए ग्रिड तैयार किए जा रहे हैं। कांड्रा ग्रिड को वन मंजूरी मिल गई है। यह तीन महीने में चालू हो जाएगा। कांड्रा से धनबाद शहर तक दो लाइनें शुरू की जाएंगी। इसके अलावा गोविंदपुर और चंदनकियारी से भी धनबाद को बिजली मिलेगी। चंदनकियारी ग्रिड छह महीने में बन जायेगा। धनबाद में भी 20 नए सब स्टेशन बनाए जा रहे हैं। इससे गुणवत्तापूर्ण बिजली मिलेगी। इसके अलावा औद्योगिक क्षेत्र कांड्रा और बलियापुर और प्रस्तावित औद्योगिक क्षेत्र खिलकाबाद में बुनियादी ढांचे की स्थापना की जा रही है। जीआईएस आधारित बुनियादी ढांचा तैयार किया जा रहा है। कांड्रा इंडस्ट्रियल एरिया में अंडरग्राउंड केबलिंग की गई थी। इसी तरह धनबाद के तहत भूमिगत केबलिंग होगी। कुछ जगहों पर काम चल रहा है।

 

धनबाद में स्मार्ट ग्रिड से ऑनलाइन जुड़ेंगे बिजली कनेक्शन: धनबाद में बिजली के कनेक्शन अब ऑनलाइन उपलब्ध होंगे। राहुल पुरवार ने कहा कि उपभोक्ता एलटी और एसटी कनेक्शन ऑनलाइन प्राप्त कर सकेंगे। कनेक्शन परिवर्तन ऑनलाइन भी लागू किए जा सकते हैं। यह व्यवस्था 1 अप्रैल से लागू होगी। इसके अलावा, रांची की तर्ज पर धनबाद में प्रीपेड मीटर सिस्टम लागू किया जाएगा। पहले चरण में रांची के 3.75 लाख उपभोक्ताओं को स्मार्ट मीटर से जोड़ा जा रहा है। दूसरे चरण में 6.5 लाख उपभोक्ता संताल और मेदनी नगर को छोड़कर अन्य जगहों पर स्मार्ट मीटरिंग से जुड़ेंगे। रांची, जमशेदपुर और धनबाद स्कार्ड सिस्टम लागू किए जा रहे हैं। लाइन बनने पर दूसरी लाइन से बिजली मिलेगी।