Back to Dewas KVK
Social Share:
जानिए अगस्त माह के प्रमुख कृषि कार्य
जानिए अगस्त माह के प्रमुख कृषि कार्य

  • मक्का में तना छेदक कीट के नियंत्रण हेतु कार्बोफ्यूरान 3% कण 5 - 7.5 किलोग्राम प्रति हैक्टेयर की दर से पौधों के पाटों में डालें तथा फड़का एवं सैन्य कीट नियंत्रण हेतु मिथाइल पेराथियान 2% चूर्ण 25 कि.ग्रा. प्रति हैक्टेयर की दर से भुरकें। (जैविक खेती करने वाले किसान जैविक या देशी कीटनाशक का प्रयोग करें ।)
  • सोयाबीन में गर्डल बीटल नियंत्रण हेतु प्रोफेनोफॉस या क्विनालफॉस 800 मिलीलीटर को 500 लीटर पानी में घोलकर प्रति हैक्टेयर की दर से छिड़कें। (जैविक खेती करने वाले किसान जैविक या देशी कीटनाशक का प्रयोग करें।)
  • कुष्माकुण्ड कुल की सब्जियों (तरबूज, खरबूजा, कद्दू, तुरई, लौकी, पैठा, चिरचंडा, परवल, ककड़ी, टिंडा, खीरा, करेला) में फूल व फल गिरने की समस्या आती है। अतः इन फसलों में नियमित एवं हल्की सिंचाई करें तथा वृद्धि नियामक प्लेनोफिक्स का 0.25 मि.ली. प्रति लीटर पानी की दर से छिड़काव करें।
  • बाजरा एवं ज्वार में फड़के का आक्रमण होने पर मिथाइल पैराथियॉन 2% चूर्ण 25 किलोग्राम प्रति हैक्टेयर की दर से प्रातः या शाम को भुरकाव करें।
  • मूंगफली में निराई-गुड़ाई करें तथा झुमका किस्म के पौधों की जड़ों पर मिट्टी चढ़ाएँ। किसान मित्र कीट ट्राइकोग्रामा, क्राईसोपला आदि का प्रयोग कर समेकित कीट प्रबंधन करें।

  • नोट: जैविक खेती करने वाले किसान भाई जैविक कीटनाशकों या देशी कीटनाशक का प्रयोग करें।