• English
  • Hindi
  • Sign Up
  • Contact Us
    Contact us
    INDIA OFFICE
    Connect with Farmers and the world around you on KisaanHelpLine
    Agriculture Technology
    & Updates
    Farmers can get FREE tips on various aspects of farming.
    Tel: (+91)-7415538151
    Skype: yash.ample
    Email: info@kisaanhelpline.com
  • Learn Agro
Android app on Google Play
24/7 HELPLINE +91-7415538151

Giloy ( गिलोय)

look at here product details, reports and much more

Giloy ( गिलोय)

Giloy Health Benefits - गिलोय के लाभ

What is Giloy?

Giloy is one of the most important herbs to exist in Ayurveda. It is also known as Indian Tinospora or (Giloya/Guduchi) in Hindi. Giloy has often been called Amruta, the Indian name for nectar. It is used for a variety of purposes, especially when it comes to treating diseases.


Giloy ke health benefits और इसके fayde के बारे में विस्तार से जाने ।

गिलोय (Giloy) एक दिव्य औसधि है जिसे लाखों लोगों ने उपयोग में ला कर कई बिमारियों से छुटकारा पाया है | Giloy देखने में लगभग पान के पत्ते की तरह होती है |  यह लता के रूप में उगती है बढती है | गिल्यो के पत्ते पतले, हरे और heart shape के होते हैं | गिलोय के पीछे एक कहानी है जो इस प्रकार है: जब समुद्र मंथन हुआ तो उससे से अनेक चिजे निकली, जिसमे से की अमृत बहुत ही मूल्यवान थी जो की देवताओं को प्राप्त हुई | परन्तु दानवों ने छल से अमृत प्राप्त कर भागने लगे | भागने के क्रम में जहाँ जहाँ अमृत की बुँदे पृथ्वी पर गिरी, वहां वहां गिलोय पौधे के रूप में प्रकट हुआ, इसलिए इसे अमृत वल्ली भी बोला जाता है |

Giloy Meaning in Hindi

•    गुडूची (Guduchi)
•    अमृत वल्ली (Amrit Walli)
•    मधुपर्णी (Madhuparni)
इसे मराठी (marathi) में गलो भी बोलते हैं

गिलोय के फायदे / Benefits of Giloy

Cancer – गिलोय का प्रयोग cancer को रोकने की लिए जाना जाता है | इसके कुछ medicine भी market में उपलब्ध है जो की cancer जैसे रोगों को रोकने के लिए जाना जाता है | आइये जानते है किस तरह से गिलोय का काढ़ा बना कर पीना चाहिये जिससे की कैंसर जैसे बिमारियों को रोका जा सकता है |
•    इसके लिए आप एक मुट्ठी भर कर गेहूं का दाना लें, इसे अंकुरित होने के लिए थोड़े से पानी में दाल कर छोड़ दे |
•    अब 5 से 7 दिनों तक wait करे, और जब 6 से 8 inch तक गेहूं के धन रूप में निकाल आये तो उसे जड़ से थोडा ऊपर काट कर अलग कर लें |
•    अब इसे mixer grinder में पिस कर इसका रस निकाल लें |
•    अब Giloy के तने या लता को (ना ही ज्यादा मोटी या एकदम पतली) 7 से 8 inch तक तोड़ कर इसमें 7 से 8 तुलसी के पत्ते और 5 से 6 निम के पत्ते को मिला दें, और अब इसे भी पिस कर, इसका juice निकाल लें |
•    अब इन दोनों के मिश्रण को मिला कर सुबह सुबह पिया करें | इसे सप्ताह में 3 बार पिया करे |

Purify Blood – अगर आप केवल Giloy के लता को ही ले कर, उसे पिस कर सुबह सुबह खली पेट पानी के साथ पिते है तो आपके शरीर में खून काफी साफ़ रहेगी | इसके अलावे आपको कभी भी रक्त संबंधी कभी कोई परेशानी नहीं आएगी |

Remove Toxins – इसके regular सेवन करने से हमारे शरीर में मौजूद toxins बाहर आ जायेंगे और आप कम बीमार पड़ेंगे | यकीन मानिये जो लोग गिलोय का सप्ताह में एक बार भी सेवन करते है वो शायद ही कभी साल में एक बार बीमार पड़ते हैं |

दस्त – अगर आपका पेट ख़राब हो जाये और बार बार bathroom जाना पड़े तो आप फ़ौरन सुबह सुबह गिलोय के लेट को पिस कर उसका juice बना कर पिया करें | ऐसा करने से जल्दी ही दस्त या loose motion से छुटकारा मिल जाता हैं |

पीलिया – अगर आपको बार बार पीलिया रोग हो रहा हो तो गिलोय के 4-5 पत्ते और 5 inch के मध्यम आकार के लता को ले कर उसका juice निकाल हर हर एक दिन छोड़ कर पुरे 10 दिन तक पिलाना चाहिये | आप चाहे तो थोड़ी से मिसरी मिला कर पिला सकते हैं | ऐसा करने से ना केवल piliya से छुटकारा मिलेगा बल्कि यह दोबारा होने के chances भी नहीं रहेंगे |

कमजोरी – अगर आपके शरीर में कमजोरी बार बार लगती हो तो सप्ताह में 3 दिन गिलोय का सेवन करे और साथ में 1 चमम्च सहद को ले कर पिया करें | ऐसा करने से कमजोरी से छुटकारा मिलेगा और काम करने में ध्यान भी लगेगा |

Diabetes – अगर आप diabetes का ilaj कर के Giloy का 1 month तक सेवन करें और अंतर खुद महसूस करें | इसके लिए आप गिलोय के लता को 5 या 6 इंच काट कर उसे कुच लें और इसे छान कर पानी के साथ सुबह सुबह पिया करें | आप एक महीने बाद अपना blood test करवा कर diabetes का limit चेक कर सकते हैं  |


झुरियां : अगर आपके face पर wrinkles आ रहे है या झाइयाँ आ रही हो तो इसे पिस कर इसका paste बना ले और चेहरे पर 15 मिनट लगा कर सूखने के लिए छोड़ दें | और फिर ठंडे पानी से धो डालें | ऐसा करने से चेहरे पर पड़ने वाली झुरियां कम हो जायेंगी |

Crop Chart:

No data available
Recent Videos
Kisaan Shop
© 2013 Kisaan Helpline by Kisan Help Desk, all rights reserved.