n
Social Share:
पढ़ाई के साथ-साथ छात्रों को योग पाठ्यक्रम भी पढ़ाया जायेगा !!!

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में खेती-बाड़ी की पढ़ाई के साथ छात्रों  को स्वस्थ रखने के लिए योग प्रशिक्षण के साथ पाठ्यक्रम भी नए सत्र से शुरू होंगे। क़्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया फॉर योगा लेवल-1 और छत्तीसगढ़ योग आयोग की ओर से स्टूडेंट्स को प्रमाण-पत्र दिया जाएगा। इस पाठ्यक्रम के लिए स्टूडेंट्स से कोई फीस नहीं ली जाएगी। उन्हें सिर्फ परीक्षा शुल्क देना होगा। वहीं पाठ्यक्रम के लिए अभी तक 40 से अधिक स्टूडेंट्स के आवेदन विभाग को मिल चुके हैं।

सभी स्टूडेंट्स कर सकेंगे आवेदन

कॉलेज के छात्र अधिष्ठाता विभाग प्रभारी डॉ. ओपी कश्यप ने बताया कि शरीर को निरोग रखने के साथ ही ऊर्जावान बनाने में योग क्रिया का अहम रोल है, इसलिए कृषि विश्व विद्यालय सहित अन्य कॉलेज में पढ़ रहे सभी छात्र-छात्राओं को योग पाठ्यक्रम से जोड़ने की पहल की जा रही है। विभाग की वेबसाइट पर कोर्स के संबंध में 11 अप्रैल को विस्तृत जानकारी अपलोड कर दी गई, जिसके बाद से बीएससी, एमएससी, पीएचडी पाठ्यक्रम की पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स ने कोर्स के आवेदन किया है।

परीक्षा की वजह से रही देरी

एक मई से कोर्स शुरू होना था, लेकिन मई में स्टूडेंट्स की परीक्षाएं संचालित होंगी। इससे स्टूडेंट्स को प्रभावित नहीं किया जा सकता है। इसलिए परीक्षा के बाद यानि जून-जुलाई में पूरी तरह से पाठ्यक्रम शुरू किये जायेंगे। कोर्स को शुरू करने के लिए फैकल्टी नियुक्त की अनुमति के लिए शासन को पत्र लिखा गया है। शासन ने अन्य संस्थानों में चल रहे सिस्टम की रिपोर्ट भी मांगी है।